ब्लागजगत के सभी नये -पुराने साथियों को नमस्कार। कहीं आप मुझे भूल तो नहीं गये। अगर ऐसा है तो …………

भूलने वाले मुझे याद कर, भूलने वाले मुझे याद आ।
तू मेरे दिल में बस कर, मुझे पने दिल में बसा।


ये जो तनहाई है मेरी दुश्मन ये तुमको भी सताती होगी,
मैं इधर जब तड़पता हूँ इतना ये तुमको भी तड़पाती होगी,
अब यही तू इक उपाय कर और तनहाइयों को भगा………


है तुमको भी मेरी जरूरत और तू भी जरूरत है मेरी,
मैं हूँ तेरे हाथ की लकीरें और तू ही किस्मत है मेरी,
हाथ में हाथ फिर रख दे और सोई किस्मत को जगा……


बाकी पंक्तियाँ आप के कमेन्ट्स के बाद………..

Advertisements

Comments on: "भूलने वाले मुझे याद कर" (12)

  1. इतनी जल्दी भूल कैसे जायेंगे हुजूर। अभी सात आठ महीना पहले ही तो आपके शेर पढे थें । इन्तजार जरुर था।ये तनहाई तो सभी की दुश्मन है। बहुत बढिया तू मेरे हाथ की लकीर तू मेरी किस्मत । अपना तो ये है अपने हाथों की लकीरें तो दिखादूं लेकिन क्या पढेगा कोई किस्मत में लिखा ही क्या है।

  2. ये जो तनहाई है मेरी दुश्मन ये तुमको भी सताती होगी,मैं इधर जब तड़पता हूँ इतना ये तुमको भी तड़पाती होगी,अब यही तू इक उपाय कर और तनहाइयों को भगा………वाह! बहुत सुन्दर पंक्तियाँ! उम्दा प्रस्तुती!

  3. बहुत सुन्दर है गीत.

  4. है तुमको भी मेरी जरूरत और तू भी जरूरत है मेरी,मैं हूँ तेरे हाथ की लकीरें और तू ही किस्मत है मेरी,हाथ में हाथ फिर रख दे और सोई किस्मत को जगाbahut sundar prastuti.comments to aa hi jayengeagli pankti to yahan la…

  5. है तुमको भी मेरी जरूरत और तू भी जरूरत है मेरी,मैं हूँ तेरे हाथ की लकीरें और तू ही किस्मत है मेरी,हाथ में हाथ फिर रख दे और सोई किस्मत को जगा……sunder panktiyanrachana

  6. भावपूर्ण सुन्दर गीत…..

  7. अब आप आ ही गए हैं तो याद आया कि आये बड़े दिनों के बाद ।चतुर्वेदी जी , पब्लिक मेमोरी बड़ी छोटी होती है ।निरंतरता बनाये रखें तो अच्छा लगेगा ।शुभकामनायें ।

  8. अनूठे अंदाज में अपनी उपश्थिति दर्ज कराई है आपने।

  9. अब यही तू इक उपाय कर और तनहाइयों को भगा………khoobsuratbade dino ke baad darshan huye aapke….

  10. जब आप इतना पीछे पड़े है तो किस्मत क्या सब कोई जाग जायेगा !आह्वान करते रहें,कभी न कभी कोई तो आएगा !

  11. पहली बार आना हुआ आपके रचना जगत में ,आ कर अच्छा लगा …….आभार !

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

टैग का बादल