दूर रहकर भी मेरे पास हो तुम।
जिसको ढूंढू वही तलाश हो तुम।

प्यार जो पहली-पहली बार हुआ,
मेरे उस प्यार का अह्सास हो तुम।

इस जहाँ में बहुत से चेहरे हैं,
इन सभी में बहुत ही खास हो तुम।

तेरा-मेरा मिलन तो फिर होगा,
ऐ मेरे यार क्यों उदास हो तुम।

तुमसे ही मेरी हर तमन्ना है,
मेरी हसरत हो मेरी आस हो तुम।

Advertisements

Comments on: "दूर रहकर भी मेरे पास हो तुम" (39)

  1. बहुत ही अच्छी रचना है


    तख़लीक़-ए-नज़र

  2. दूर रहकर भी मेरे पास हो तुम।जिसको ढूंढू वही तलाश हो तुम।वाह जी ….बड़ी खुशी हुई आपकी तलाश पूरी हुई ….लाजवाब शे'र ….!!!

  3. दूर रहकर भी मेरे पास हो तुम।
    जिसको ढूंढू वही तलाश हो तुम।

    वाह जी ….बड़ी खुशी हुई आपकी तलाश पूरी हुई ….लाजवाब शे'र ….!!!

  4. दूर रहकर भी मेरे पास हो तुम।
    जिसको ढूंढू वही तलाश हो तुम।

    वाह जी ….बड़ी खुशी हुई आपकी तलाश पूरी हुई ….लाजवाब शे'र ….!!!

  5. kya baat hai prassan ji…… bahut achha laga padhkar

  6. kya baat hai prassan ji…… bahut achha laga padhkar

  7. kya baat hai prassan ji…… bahut achha laga padhkar

  8. waah..pyar bhara, ek sukhad ehsaas bhara prsatutibadhayi..bahut achchi lagi aapke geet

  9. waah..
    pyar bhara, ek sukhad ehsaas bhara prsatuti
    badhayi..bahut achchi lagi aapke geet

  10. waah..
    pyar bhara, ek sukhad ehsaas bhara prsatuti
    badhayi..bahut achchi lagi aapke geet

  11. prem chalkati ik khoobsurat rachna bahut badhaii.

  12. prem chalkati ik khoobsurat rachna
    bahut badhaii.

  13. prem chalkati ik khoobsurat rachna
    bahut badhaii.

  14. मेरे ब्‍लाग पर आपके प्रथम आगमन के लिये अभिनन्‍दन,तुमसे ही मेरी हर तमन्ना है,मेरी हसरत हो मेरी आस हो तुम।हर पंक्ति बहुत ही लाजवाब, बेहतरीन प्रस्‍तुति ।

  15. मेरे ब्‍लाग पर आपके प्रथम आगमन के लिये अभिनन्‍दन,

    तुमसे ही मेरी हर तमन्ना है,
    मेरी हसरत हो मेरी आस हो तुम।

    हर पंक्ति बहुत ही लाजवाब, बेहतरीन प्रस्‍तुति ।

  16. मेरे ब्‍लाग पर आपके प्रथम आगमन के लिये अभिनन्‍दन,

    तुमसे ही मेरी हर तमन्ना है,
    मेरी हसरत हो मेरी आस हो तुम।

    हर पंक्ति बहुत ही लाजवाब, बेहतरीन प्रस्‍तुति ।

  17. "तुमसे ही मेरी हर तमन्ना है,मेरी हसरत हो मेरी आस हो तुम।"वाह…वाह….!बहुत सुन्दर,बधाई।

  18. “तुमसे ही मेरी हर तमन्ना है,
    मेरी हसरत हो मेरी आस हो तुम।”

    वाह…वाह….!
    बहुत सुन्दर,
    बधाई।

  19. “तुमसे ही मेरी हर तमन्ना है,
    मेरी हसरत हो मेरी आस हो तुम।”

    वाह…वाह….!
    बहुत सुन्दर,
    बधाई।

  20. pyar bhare ahsaas liye khubsurat gazal!shukriya

  21. pyar bhare ahsaas liye khubsurat gazal!
    shukriya

  22. pyar bhare ahsaas liye khubsurat gazal!
    shukriya

  23. 'तेरा-मेरा मिलन तो फिर होगा,ऐ मेरे यार क्यों उदास हो तुम।' – यह आत्म विश्वास ही प्रेम का संबल है.

  24. 'तेरा-मेरा मिलन तो फिर होगा,
    ऐ मेरे यार क्यों उदास हो तुम।'
    – यह आत्म विश्वास ही प्रेम का संबल है.

  25. 'तेरा-मेरा मिलन तो फिर होगा,
    ऐ मेरे यार क्यों उदास हो तुम।'
    – यह आत्म विश्वास ही प्रेम का संबल है.

  26. बहुत खूब कहा चतुर्वेदी जी बहुत प्यारी रचना !हार्दिक बधाई !मेरे दुसरे ब्लॉग पर प्रथम आगमन का शुक्रिया . कभी मेरे पहले ब्लॉग पर भी पधारे http://www.bebkoof.blogspot.com

  27. बहुत खूब कहा चतुर्वेदी जी
    बहुत प्यारी रचना !
    हार्दिक बधाई !
    मेरे दुसरे ब्लॉग पर प्रथम आगमन का शुक्रिया . कभी मेरे पहले ब्लॉग पर भी पधारे
    http://www.bebkoof.blogspot.com

  28. बहुत खूब कहा चतुर्वेदी जी
    बहुत प्यारी रचना !
    हार्दिक बधाई !
    मेरे दुसरे ब्लॉग पर प्रथम आगमन का शुक्रिया . कभी मेरे पहले ब्लॉग पर भी पधारे
    http://www.bebkoof.blogspot.com

  29. तेरा-मेरा मिलन तो फिर होगा,ऐ मेरे यार क्यों उदास हो तुम।… bahut khoob !!!!!

  30. तेरा-मेरा मिलन तो फिर होगा,
    ऐ मेरे यार क्यों उदास हो तुम।
    … bahut khoob !!!!!

  31. तेरा-मेरा मिलन तो फिर होगा,
    ऐ मेरे यार क्यों उदास हो तुम।
    … bahut khoob !!!!!

  32. तेरा-मेरा मिलन तो फिर होगा,ऐ मेरे यार क्यों उदास हो तुम।वाह अजा आ गया चतुर्वेदी जी बधाइयां

  33. तेरा-मेरा मिलन तो फिर होगा,
    ऐ मेरे यार क्यों उदास हो तुम।
    वाह अजा आ गया चतुर्वेदी जी बधाइयां

  34. तेरा-मेरा मिलन तो फिर होगा,
    ऐ मेरे यार क्यों उदास हो तुम।
    वाह अजा आ गया चतुर्वेदी जी बधाइयां

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

टैग का बादल