चाहा था हँसना हमको रोना पडा़ ।
आसुँओं से आँखों को भिगोना पडा़।

जैसे सावन की ये घटाएं सिर्फ़ बरसना जानें,
अंखिया बरसे दिल की हसरत को ये ना पहचाने,
चाहा था पाना जिसको खोना पडा़ ……………….

दिल की मेरी सारी बातें रह गयीं मेरे दिल में,
तनहाई ले आयी मुझको ग़म से भरे महफ़िल में,
हर इक खुशी से हाथ मुझको धोना पडा़ ………..

रही बराबर दूरी हरदम मंजिल और कदम की,
पूरे जीवन रहीं बहारें ग़म से भरे मौसम की,
सर पे इतना बोझ गमों का ढोना पडा ………..

Advertisements

Comments on: "गीत/चाहा था हँसना हमको" (20)

  1. जैसे सावन की ये घटाएं सिर्फ़ बरसना जानें,अंखिया बरसे दिल की हसरत को ये ना पहचाने,चाहा था पाना जिसको खोना पडा़ ……………….achcha geet hai Prasann ji,is ko apni awaaz mein bhi post kartey ?[aap ka mere blog par aana achcha laga.dhnywaad..aap to sangeet ke gyata hain.main to sangeet nahin sikhi hun yun hi gunguna leti hun.]

  2. जैसे सावन की ये घटाएं सिर्फ़ बरसना जानें,
    अंखिया बरसे दिल की हसरत को ये ना पहचाने,
    चाहा था पाना जिसको खोना पडा़ ……………….
    achcha geet hai Prasann ji,

    is ko apni awaaz mein bhi post kartey ?

    [aap ka mere blog par aana achcha laga.dhnywaad.
    .aap to sangeet ke gyata hain.main to sangeet nahin sikhi hun yun hi gunguna leti hun.]

  3. वदन-बदन जो भी हो प्रसन्न रहे बस और क्या

  4. वदन-बदन जो भी हो प्रसन्न रहे बस और क्या

  5. आपके सारे गीत खूबसूरत हैं … आशा है हम सभी को आपके गीतों कि ताजगी यूँ ही मिलती रहेगी … स्वागत है आपका ब्लॉगजगत और साथ ही साथ मेरी google reader list में……

  6. आपके सारे गीत खूबसूरत हैं … आशा है हम सभी को आपके गीतों कि ताजगी यूँ ही मिलती रहेगी … स्वागत है आपका ब्लॉगजगत और साथ ही साथ मेरी google reader list में……

  7. बहुत सुंदर…..आपके इस सुंदर से चिटठे के साथ आपका ब्‍लाग जगत में स्‍वागत है…..आशा है , आप अपनी प्रतिभा से हिन्‍दी चिटठा जगत को समृद्ध करने और हिन्‍दी पाठको को ज्ञान बांटने के साथ साथ खुद भी सफलता प्राप्‍त करेंगे …..हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।

  8. बहुत सुंदर…..आपके इस सुंदर से चिटठे के साथ आपका ब्‍लाग जगत में स्‍वागत है…..आशा है , आप अपनी प्रतिभा से हिन्‍दी चिटठा जगत को समृद्ध करने और हिन्‍दी पाठको को ज्ञान बांटने के साथ साथ खुद भी सफलता प्राप्‍त करेंगे …..हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।

  9. दिल की मेरी सारी बातें रह गयीं मेरे दिल में,तनहाई ले आयी मुझको ग़म से भरे महफ़िल में,हर इक खुशी से हाथ मुझको धोना पडा़ …….wah sunder geet rachna ke liye badhai. blog jagat men swagat hai.

  10. दिल की मेरी सारी बातें रह गयीं मेरे दिल में,
    तनहाई ले आयी मुझको ग़म से भरे महफ़िल में,
    हर इक खुशी से हाथ मुझको धोना पडा़ …….

    wah sunder geet rachna ke liye badhai. blog jagat men swagat hai.

  11. आप हिन्दी में लिखते हैं. अच्छा लगता है. मेरी शुभकामनाऐं आपके साथ हैं.Pawan Mallhttp://latife.co.nr/

  12. आप हिन्दी में लिखते हैं. अच्छा लगता है. मेरी शुभकामनाऐं आपके साथ हैं.
    Pawan Mall
    http://latife.co.nr/

  13. सुन्दर गीत….लिखते रहें…और कभी अपनी आवाज में भी सुनवाएं…नीरज

  14. सुन्दर गीत….लिखते रहें…और कभी अपनी आवाज में भी सुनवाएं…
    नीरज

  15. रही बराबर दूरी हरदम मंजिल और कदम की,पूरे जीवन रहीं बहारें ग़म से भरे मौसम की,सर पे इतना बोझ गमों का ढोना पडा वाह साहब क्या कहने अश यही बात हिन्दी में कही होती

  16. रही बराबर दूरी हरदम मंजिल और कदम की,
    पूरे जीवन रहीं बहारें ग़म से भरे मौसम की,
    सर पे इतना बोझ गमों का ढोना पडा

    वाह साहब क्या कहने
    अश यही बात हिन्दी में कही होती

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

टैग का बादल